Hey Saraswati Maa Kripa Karo lyrics in Hindi

देवी सरस्वती को विद्या की देवी माना जाता है। उनकी मूर्ति घर में रखने और रोज उसकी पूजा करने से जीवन में सफलता और तरक्की मिलती है

हे सरस्वती माँ ज्ञान की देवी किरपा करो
देकर वरदान हे मात मेरा अज्ञान हरो

करुनामई है तू वरदानी कमल तेरे कर साजे है
आनंद मंगल कर देती है जिस घर मात विराजे है,
ज्ञान से तेरे सरस्वती माँ अँध्यारो का नाश हुआ
समृधि आई उस घर माँ जिस घर तेरा वास हुआ
अपनी महिमा से घर मेरा खुशियों से भरो
देकर वरदान हे मात मेरा अज्ञान हरो

सात सुरों की देवी हो तुम सात सुरों में वास तेरा
सरगम से गूंजे ये धरती सरगम से आकाश तेरा
तेरी किरपा से सरस्वती माँ मंगल सब हो जाता है
जिसके कंठ विराजे माता बिगड़ा भग्य बन जाता है
मेरे भी सारे काज मात तूम पूरण करो
देकर वरदान हे मात मेरा अज्ञान हरो

वीणा धारनी विपदा हारनी कितनी पावन हो माता
देव ऋषि तुम्हे नमन करे माँ दर्शन तेरा मन भाता
गुनी जनों की हो हित कारी सब को शरण लगाती हु
जिसकी वाणी में बस जाओ माला माल बनाती हो
हम दीं हीन पे मात मेरी तुम ध्यान धरो
देकर वरदान हे मात मेरा अज्ञान हरो

Aarti Kunj Bihari Ki Aigiri Nandini aarti lyrics Aisa damru bajaya bholenath ne Ek Radha Ek Meera Ganesh Amritwani govardhan vasi sanware Hanuman Bahuk lyrics Hey Saraswati Maa Kripa Karo Kaal Bhairav Ashtakam Koi Jaye Jo Vrindavan Krishna ji ki aarti Lagan Tumse Laga Baithe Maruti stotra lyrics Mere Banke Bihari Lal Lyrics ram chandra kripalu Ram Darshan Ram Siya Ram Shani Dev Ki Aarti Shiva Rudrashtakam Stotram Shiv Mantra Shri Ram Stuti Tulsi Mata ki aarti आरती कुंजबिहारी की आरती श्री विष्णु जी की शिव रुद्राष्टकम

Scroll to Top