Hari Sundar Nand Mukunda lyrics, श्री कृष्ण का पाठ पढ़ने से आपको नकारात्मक प्रभावों और उनके नकारात्मक परिणामों से बचा सकता है।

Shri Krishna Bhajan :

श्री कृष्ण का पाठ पढ़ने से आपको नकारात्मक प्रभावों और उनके नकारात्मक परिणामों से बचा सकता है।

Hari Sundar Nand Mukunda lyrics:

हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ
हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ

हरि केशव हरि गोविंद
हरि नारायण हरि ॐ
हरि केशव हरि गोविंद
हरि नारायण हरि ॐ ||

हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ
हरि केशव हरि गोविंद
हरि नारायण हरि ॐ
हरि केशव हरि गोविंद
हरि नारायण हरि ॐ ||

हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ ||

वन्माली मुरलीधारी
गोवर्धन गिरिवर्धारी
वन्माली मुरलीधारी
गोवर्धन गिरिवर्धारी
नित नित कर माखन चोरी
गोपी मन हारी ||

आओ रे गाओ रे गोकुल के प्यारे
आओ रे कान्हा रे गोकुल के प्यारे
आओ रे नाचो रे रास रचाओ रे
गाओ रे नाचो रे रास रचाओ रे ||

हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ
हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ

हरि केशव हरि गोविंद
हरि नारायण हरि ॐ
हरि केशव हरि गोविंद
हरि नारायण हरि ॐ ||

हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ
हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ||

हे मोर मुकुट गिरधारी
कान्हा पीताम्भर धारी
हे मोर मुकुट गिरधारी
कान्हा पीताम्भर धारी
गोपियाँ संग रास रचाये
मोहन मुरली धारी ||

आओ रे आओ रे मोहन गिरधारी
आओ रे कान्हा रे हे कृष्णा मुरारी
आओ रे नाचो रे रास रचाओ रे
गाओ रे नाचो रे रास रचाओ रे ||

हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ
हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ ||

हरि केशव हरि गोविंद
हरि नारायण हरि ॐ
हरि केशव हरि गोविंद
हरि नारायण हरि ॐ

हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ
हरि सुंदर नंद मुकुंदा
हरि नारायण हरि ॐ ||

ये बोल भगवान कृष्ण की भक्ति और सराहना को व्यक्त करते हैं, उनकी सुंदरता, मोहक बांसुरी, और राधा और कृष्ण के बीच के प्यार को बताते हैं। यह गीत कृष्ण भजनों और भक्तिगोष्ठियों में आमतौर पर गाया जाता है। हरि सुंदर नंद मुकुंद” भगवान कृष्ण के गुणों का गुणगान करने वाली एक भक्ति अभिव्यक्ति है। ये शब्द कृष्ण के दिव्य और मनमोहक रूप के प्रति गहरी प्रशंसा व्यक्त करते हैं। इस वाक्यांश का प्रयोग अक्सर भजनों और प्रार्थनाओं में किया जाता है, जिसमें प्रिय और आकर्षक मुकुंद के रूप में भगवान कृष्ण की सुंदरता और कृपा पर जोर दिया जाता है, जो अपनी दिव्य उपस्थिति से दिलों को मोहित कर लेते हैं।

हरि सुंदर नंद मुकुंदा Meaning (भजन का अर्थ)

इस भक्ति वाक्यांश में, भक्त भगवान कृष्ण की स्तुति करते हैं, उन्हें हरि, सुंदर, नंद और मुकुंद जैसे विभिन्न नामों से संबोधित करते हैं। “हरि” का अर्थ बाधाओं को दूर करने वाला है, “सुंदर” का अर्थ सुंदरता है, “नंद” का अर्थ परमात्मा के आनंद से है, और “मुकुंद” का अर्थ है मुक्ति देने वाला। यह अभिव्यक्ति कृष्ण के दिव्य गुणों के प्रति प्रेम और प्रशंसा व्यक्त करती है, आनंद और मुक्ति के आकर्षक दाता के रूप में उनकी भूमिका पर जोर देती है। हरि सुंदर नंद मुकुंदा हरि नारायण हरि ओम हरि सुंदर नंद मुकुंदा, हरि नारायण हरि ॐ, हरि केशव हरि गोविंद, हरि नारायण हरि ॐ..

Hari Narayana Hari Om | Hari Keshav Hari Govind | Hari Narayana Hari Om | हरि सुंदर नंद मुकुंदा हरि नारायण हरि ओम | हरि सुंदर नंद मुकुंदा लिरिक्स | hari sundar nand mukunda | hari sundar nand mukunda lyrics | hari sundar nand mukunda hari narayan hari om lyrics | हरी सुंदर नंद मुकुंदा | हरि सुंदर नंद मुकुंदा हरि नारायण हरि ओम | hari sundar nand mukunda lyrics hindi | hari sundar nand mukunda hari narayan hari om | hari sundar nand mukunda lyrics in hindi | hari keshav nand mukunda lyrics | lyrics of hari sundar nand mukunda | lyrics hari sundar nand mukunda |

For more videos click on the link -> https://youtu.be/XLMMbU2CD4A?si=ywCnzuTdrpMt3p9l

Hari Sundar Nand Mukunda song download MP3 song pdf Download

To download the bhajan click here!

अधिक प्रसिद्ध भजन यहाँ पढ़ें।

  1. Kanhaiya Teri Murat
  2. Meethi Meethi Mere Saware Ki Murli Baje
  3. Shiv Chalisa
  4. Shri Krishna Govind Hare Murari
  5. Achyutam Keshavam Krishna Damodaram
  6. Shiv Ji ki Aarti
Scroll to Top